Admission Open

Course Description

जिन युवाओं की इच्छा सरकारी नौकरी करने की है। उनके लिए स्टेनोग्राफी एक अच्छा करियर विकल्प हो सकता है। स्टेनोग्राफर पर कार्यालय या संस्था के गोपनीय रिकॉर्डों को संभालने का दायित्व रहता है| स्टेनोग्राफर अपने अधिकारी के प्रति विश्वनीय पद है। इस पद पर काम करना एक गरिमापूर्ण व चुनौतीपूर्ण है| स्टेनोग्राफी आशय होता है संक्षिप्त लेखन जिसे अंग्रेजी में शॉर्टहैंड कहा जाता है एक प्रकार की लेखन विधि होती है। हमारे देश में स्टेनोग्राफर के पद अदालतों, शासकीय कार्यालयों, मंत्रालयों, रेलवे विभागों में होते हैं। स्टेनोग्राफर का कोर्स करने के लिए कड़े परिश्रम की आवश्कता होती है, क्योंकि इस भाषा में शब्द गति होना आवश्यक है। एक कुशल स्टेनोग्राफर बनने के लिए उस विषय की भाषा का व्याकरण का ज्ञान होना अत्यंत आवश्यक है|

Eligibility

  1. आईटीआई स्टेनोग्राफी में एडमिशन लेने के लिए मिनिमम क्वालिफिकेशन 10वीं या 12वी होती है।

Seats:

Seats: 48

Fees

Fees for Stenographer Trade : Rs.20000/-

Scholarship

This scholarship is applicable to the students belonging to SC/ ST/ OBC category. The scholarship is administered by the Government of Madhya Pradesh based on annual income of the family. Students with family income below Rs. 3,00,000/- are eligible to apply.
Documents required for any scholarship:

 

  • Attested photocopy of permanent caste certificate.
  • Original income certificate / attested photocopy of income certificate.
  • Attested photocopy of domicile certificate.
  • Attested photocopy of all mark sheets.
  • Attested photocopy of gap certificate.
  • Attested photocopy of admission slip
  • Declaration by family and student(Format available in college

 

Documents required for any scholarship:

  1. Attested photocopy of permanent caste certificate.
  2. Original income certificate / attested photocopy of income certificate.
  3. Attested photocopy of domicile certificate.
  4. Attested photocopy of all mark sheets.
  5. Attested photocopy of gap certificate.
  6. Attested photocopy of admission slip
  7. Declaration by family and student(Format available in college)
  8. Candidates must have Maths and Physics as compulsory subjects in their 10+2.